सूर्य देव

 

हिन्दू धर्म में सूर्य को देवता का मानकर पूजा की जाती है। सूर्य पृथ्वी पर ऊर्जा का सबसे बड़ा स्रोत है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार सूर्य को ग्रहों का जनक माना जाता है। पृथ्वी से सूर्य की दूरी क्रमशः बुध और शुक्र के बाद सबसे कम है। सूर्य का आकार सभी ग्रहों की तुलना में अत्यंत विशाल है। सूर्य हमारे सौर मंडल में केन्द्र में स्थित है। खगोलीय दृष्टि से सूर्य एक तारा है, परन्तु ज्योतिष में यह एक महत्वपूर्ण और प्रमुख ग्रह है। जन्म कुंडली के अध्ययन में सूर्य की अहम भूमिका होती है। भले ही वह वैदिक पद्धति हो अथवा लाल किताब दोनों में ही सूर्य देव को महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त है।