15.jpg

 

राशिफल

         आकाश मंडल में स्थित भचक्र 360 अंश का होता है। इसे 12 राशियों में विभाजित किया गया है। इस विभाजन के फलस्वरूप एक राशि 30 अंश की होती है। प्रत्येक राशि की एक आकृति होती है और इसी आकृति के आधार पर राशियों का नामकरण किया गया है। राशि चक्र में जातक के स्वभाव, स्वास्थ्य, व्यक्तित्व, आदत, गुण, दोष इत्यादि का अध्ययन किया जाता है। राशि चक्र में कुल राशियों की संख्या 12 है। जन्म के समय चंद्र आकाश मंडल में जिस राशि में उदित होता है, वह राशि चंद्र राशि कहलाती है। जन्म के समय सूर्य जिस राशि में स्थित होता है वह सूर्य राशि कहलाती है।

         राशियां क्रमशः इस प्रकार हैं -

                  1. मेष

                  2. वृष

                  3. मिथुन

                  4. कर्क

                  5. सिंह

                  6. कन्या

                  7. तुला

                  8. वृश्चिक

                  9. धनु

                  10. मकर

                  11. कुम्भ

                  12. मीन

नोट - जातक अपना राशिफल जानने के लिए उपरोक्त राशियों पर क्लिक कर सकते हैं।

         यदि किसी जातक को अपना जन्म विवरण ज्ञात नहीं है तो ऐसी स्थिति में जातक अपने पंजीकृत नाम के पहले अक्षर के आधार पर अपनी राशि जान सकते हैं। आपके नाम का पहला अक्षर आपके व्यक्तित्व के कई रहस्य, स्वभाव, चरित्र, पसंद-नापसंद, हाव-भाव इत्यादि के बारे में बतलाता है।

         नामाक्षर क्रमशः इस प्रकार हैं -

                  1. चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ - मेष

                  2. ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो - वृष

                  3. का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह - मिथुन

                  4. ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो - कर्क

                  5. मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे - सिंह

                  6. ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो - कन्या

                  7. रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते - तुला

                  8. तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू - वृश्चिक

                  9. ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे - धनु

                  10. भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी - मकर

                  11. गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा - कुंभ

                  12. दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची - मीन

नोट - जातक अपना राशिफल जानने के लिए उपरोक्त राशियों पर क्लिक कर सकते हैं।

ग्रहफल

         ज्योतिष शास्त्र में कुल 9 ग्रह माने गए हैं, जिनमें 7 मुख्य ग्रह हैं एवं 2 छाया ग्रह हैं। पूरी ज्योतिष इन्हीं 9 ग्रहों के इर्द-गिर्द घूमती है, जिससे मानव जीवन पर पड़ने वाले प्रभावों का अध्ययन किया जाता है। प्रमुख विशेषताओं का वर्णन प्रस्तुत किया जा रहा है।

         सात मुख्य ग्रह एवं दो छाया ग्रह क्रमानुसार निम्न प्रकार हैं -

                  1. सूर्य

                  2. चंद्र

                  3. मंगल

                  4. बुध

                  5. गुरु

                  6. शुक्र

                  7. शनि

                  8. राहु

                  9. केतु

नोट - जातक अपना ग्रहफल जानने के लिए उपरोक्त ग्रहों पर क्लिक कर सकते हैं।

।। हरि ॐ  हरि ॐ  हरि ॐ ।।

।। शुभ हो  शुभ हो  शुभ हो ।।